Chandrayaan-2:चंद्रयान मिशन के लैंडर विक्रम को लेकर NASA ने जारी की तस्वीरें

नई दिल्ली: इसरो के मिशन चंद्रयान 2 को लेकर बड़ी खबर सामने आई है, अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (NASA) ने इस मिशन को लेकर कुछ हाई रिजोल्यूशन तस्वीरें जारी की हैं। नासा ने तस्वीरें जारी करते हुए कहा है कि लैंडर विक्रम (Lander Vikram) ने चंद्रमा की सतह पर हार्ड लैंडिंग की थी।

साथ ही नासा ने ये भी कहा है कि लैंडर विक्रम के सटीक स्थान का पता अभी तक नहीं चल पाया है। वहीं नासा ने कहा है कि वो एक बार फिर लैंडिंग साइट के पास पहुंचने का प्रयास करेगा और 14 अक्टूबर को एक और कोशिश की जाएगी।

गौरतलब है कि 7 सितंबर को  सभी की आंखे टकटकी लगाए बैठी थी कि कब चंद्रयान-2 चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग करे और हम एक नए इतिहास का गवाह बन जाए। लेकिन रात करीब 1: 38 बजे चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम चांद पर उतरते समय उसका संपर्क जमीनी स्टेशन से टूट गया था। चंद्रयान-2 का जब संपर्क इसरो से टूटा तो उस वक्त लैंडर चांद की सतह से बस 2.1 किमी की ऊंचाई पर था।

वहीं अभी 26 सितंबर को इसरो ने इस मिशन को लेकर अब नया समाचार दिया था बताया जा रहा कि इस मिशन का अहम हिस्सा ऑर्बिटर (Orbiter) बढ़िया से काम कर रहा है। इसरो चीफ के सिवन ने बताया था कि ऑर्बिटर काफी अच्छे से काम कर रहा है और सभी पेलोड संचालन शुरू हो गए हैं, यह बहुत अच्छा कर रहा है। हमें लैंडर से कोई संकेत नहीं मिला है लेकिन ऑर्बिटर बहुत अच्छा काम कर रहा है।

सात सितंबर को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) का चंद्रयान-2 के विक्रम मॉड्यूल की चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग कराने का प्रयास तय योजना के मुताबिक पूरा नहीं हो पाया था। लैंडर का आखिरी क्षण में जमीनी केंद्रों से संपर्क टूट गया था।

इसरो के चंद्रयान 2 मिशन को दुनिया भर में अंतरिक्ष एजेंसियों की तुलना में बेहद कम लागत पर तैयार किया गया है। इसरो का (चंद्रयान-2) 978 करोड़ रुपए की लागत से तैयार किया गया है। यह वास्तव में अन्य अंतरिक्ष एजेंसियों की तुलना में बेहद कम है।

गौरतलब है कि 22 जुलाई को सतीश धवन स्पेस सेंटर से चंद्रयान 2 को लॉन्च किया गया था। सबसे पहले पृथ्वी की कक्षा में चक्कर काटने के बाद चंद्रयान 2 ने 14 अगस्त को चंद्रमा के लिए अपनी यात्रा शुरू की। मिशन के अंतिम समय तक चंद्रयान की सभी क्रियाएं बेहद सफल रहीं थीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: