देशभर में मनाई जा रही है बकरीद, मस्जिदों में अता की गई नमाज

नई दिल्ली। Bakrid Celebration 2019: देशभर में आज ईद का त्यौहार मनाया जा रहा है। सऊदी अरब में हजयात्रा के अंतिम चरण के दौरान शैतान को कंकड़ मारने की प्रथा में दुनिया भर से आये करीब 25 लाख हजयात्रियों ने हिस्सा लिया। इसके साथ ही ईद-उल-अजहा के जश्न की शुरुआत हो गयी। ईद से पहले बाजारों में खूब रौनक देखी गई और लोगों ने जमकर खरीददारी की।

लोग बकरों की कुर्बानी देकर अमन चैन की दुआ मांगगे। ईद से पहले बाजार पूरी तरह से गुलजार रहे और मुस्लिम समुदाय के लोगों ने खान पान की तमाम चीजें खरीदीं। वह देश के अलग-अलग हिस्सों में कुर्बानी देने के लिए बाजार लगे और बकरों की खूब खरीददारी हुई। इस दौरान बकरों और भेड़ों की कीमतें काफी ज्यादा रहीं। सोशल मीडिया के जरिए लोग एक दूसरे को ईद की बधाई दे रहे हैं।

मुस्लिमों में पैंगम्बर और हजरत मोहम्मद के पूर्वज हजरत इब्राहिम की कुर्बानी को याद करने के लिए ईद का त्यौहार मनाया जाता है। कहा जाता है कि अल्लाह ने इब्राहिम की परीक्षा लेने के लिए अपनी सबसे प्यारी चीज की कुर्बानी मांगी थी और इसके बाद जैसे ही इब्राहिम अपने जवान बेटे को कुर्बान करने का फैसला कर रहे थे तो अल्लाह ने उन्हें रोक दिया।

राष्ट्रपति ने दी बधाई

ईद की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति ने भी बधाई देते हुए कहा, ‘ईद-उल जुहा के अवसर पर मैं सभी देशवासियों, विशेष रूप से भारत एवं विदेश में रहने वाले हमारे मुस्लिम भाईयों एवं बहनों को अपनी शुभकामनाएं और बधाई देता हूं। ईद-उल जुहा प्रेम बंधुत्व एवं मानवता की सेवा का प्रतीक है। आइये, हम इन सार्वभौमिक मूल्यों के लिए खुद को प्रतिबद्ध करें जो हमारी समग्र संस्कृति का प्रतिनिधित्व करते हैं।’

उपराष्ट्रपति बोले- मानवता की सेवा का प्रतीक है ईद

वहीं उप राष्ट्रपति वैंकेया नायडू ने भी अपने बधाई संदेश में कहा, ‘ईद-उल जुहा के अवसर पर मैं सभी देशवासियों, विशेष रूप से भारत एवं विदेश में रहने वाले हमारे मुस्लिम भाईयों एवं बहनों को अपनी शुभकामनाएं और बधाई देता हूं। ईद-उल जुहा प्रेम बंधुत्व एवं मानवता की सेवा का प्रतीक है। आइये, हम इन सार्वभौमिक मूल्यों के लिए खुद को प्रतिबद्ध करें जो हमारी समग्र संस्कृति का प्रतिनिधित्व करते हैं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: