IND vs WI, 1st ODI: भारत-वेस्टइंडीज पहला वनडे बारिश के कारण हुआ रद्द

गयाना: भारत और वेस्टइंडीज के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला बारिश के कारण रद्द हो गया। मैच 13 ओवर का ही हो पाया और बारिश की भेंट चढ़ गया। मैच में तीन बार बारिश ने खलल डाला। तीसरी बार जब बारिश आई तब वेस्टइंडीज ने 13 ओवरों में एक विकेट गंवाकर 54 रन बना लिए थे। एविन लुइस 40* और शाई होप 6* रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे। बारिश के कारण मैच देर से शुरू हुआ था। बारिश के कारण ओवरों की संख्या कम कर 43 कर दी गई थी लेकिन मैच सिर्फ 5.4 ओवरों का ही हो पाया और तभी बारिश आ गई। बारिश रुकने के बाद जब मैच शुरू किया गया तब ओवरों की संख्या 34 कर दी गई। मेजबान टीम को एकमात्र झटका क्रिस गेल के रूप में लगा। गेल अपने रंग में नजर नहीं आए और 31 गेंदों में 4 रन बनाकर पवेलियटन लौट गए। उन्हें 11वें ओवर में कुलदीप यादव ने बोल्ड किया। 13वें ओवर के पूरा होने के बाद एक बार फिर बारिश आ गई और मैच शुरू नहीं हो सका। इसके बाद खेलने लायक स्थिति न बनती देख अंपायरों ने मैच रद्द करने का निर्णय किया।

भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। भारत ने इस मैच में श्रेयस अय्यर को मौका दिया। टी-20 सीरीज में दमदार गेंदबाजी करने वाले नवदीप सैनी को इस मैच में मौका नहीं दिया गया। तीन टी20 मैचों की सीरीज में कैरेबियाई टीम का सूपड़ा साफ करने के बाद अब भारतीय टीम अपनी इस लय को वनडे सीरीज में भी बरकरार रखना चाहेगी। भारत ने टी20 सीरीज जीतकर इतिहास रच दिया था। भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ उसकी धरती पर आठ साल बाद टी20 सीरीज जीती। पिछली बार भारत ने 2011 में वेस्टइंडीज में टी20 सीरीज 1-0 से सीरीज जीती थी।

विश्व कप 2019 सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ मिली हार के बाद भारत का यह पहला वनडे मैच था। विश्व कप के दौरान चोटिल हुए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन इस मैच के साथ वनडे फॉर्मेट में वापसी की। भारत की टी20 और वनडे टीम में कई खिलाड़ी अलग है। दीपक चाहर और राहुल राहुल वनडे में नहीं हैं वहीं इस फॉर्मेट में वॉशिंगटन सुंदर भी भारतीय टीम का हिस्सा नहीं होंगे। वनडे में भारत की स्पिन जोड़ी कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल वापसी कर रही है। क्रुणाल पांड्या की जगह केदार जाधव वनडे टीम में आए हैं।

भारत की टी20 सीरीज में गेंदबाजी अच्छी रही। नवदीप सैनी ने अपनी तेजी और सटीक लाइन लैंग्थ से काफी प्रभावित किया तो वहीं भुवनेश्वर कुमार ने प्रभावी गेंदबाजी की। आखिरी टी20 में राहुल चाहर अपनी छाप छोड़ने में सफल रहे थे। हालांकि खलील अहमद कुछ खास प्रभाव नहीं छोड़ पाए। इसके अलावा स्पिन में वॉशिंगटन सुंदर और क्रुणाल पांड्या कैरेबियाई बल्लेबाजों पर नकेल कसने में कामयाब रहे।

दूसरी ओर, वेस्टइंडीज की वनडे टीम में भी कुछ खिलाड़ी अलग हैं। टी20 में कैरेबियाई टीम की अगुवाई जहां कार्लोस ब्रेथवेस्ट कर रहे थे वहीं वनडे में कप्तानी जेसन होल्डर के जिम्मे है। कीरोन पोलार्ड भी टीम में नहीं हैं। इसके अलावा रोस्टन चेज, क्रिस गेल, केमार रोच और शाई होप टीम में वापस आए हैं। वेस्टइंडीज को क्रिस गेल की वापसी से टीम के मजबूत होने की उम्मीद है। हालांकि, पहले वनडे में वह कुछ खास कमाल नहीं कर सके। गेल ने विश्व कप के दौरान घोषणा की थी कि भारत के खिलाफ घरेलू सीरीज उनकीअंतिम सीरीज होगी। होल्डर के नेतृत्व में वेस्टइंडीज की टीम विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई थी। इसलिए मेजबान टीम इस सीरीज में अपने आप को साबित करना चाहेगी।

प्लेइंग इलेवन: 

भारत: भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत (विकेटकीपर), केदार जाधव, रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी और खलील अहमद।

वेस्टइंडीज: जेसन होल्डर (कप्तान), एविन लुइस, क्रिस गेल, शाई होप (विकेटकीपर), निकोलस पूरन, शिमोरन हेटमायर, रोस्टन चेज, कार्लोस ब्रेथेवट, फेबियन एलन, शेल्डन कॉटरेल और केमार रोच। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: