लवन नगर में बढ़ती दुर्घटनाओं को देखते हुए बाइपास मार्ग बनाने की नगरवासियों ने सरकार से रखी मांग

टोल

Advertisement
टैक्स बचाने के लिए हैवी वाहन चालक इस मार्ग का करते है उपयोग

Advertisement

बलौदाबाजार,
फागुलाल रात्रे, लवन।

नगर सीमा क्षेत्र में भारी वाहनों के प्रवेश के चलते यातायात का दबाव दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। लवन में बढ़ती दुर्घटनाओं को देखते हुए नगरवासियों द्वारा लवन नगर के बाहरी सीमा पर बायपास मार्ग बनाने की मांग अब जोर पकड़ने लगी है। जब से बलौदाबाजार-गिधौरी मार्ग बना है तब से लेकर इस मार्ग पर भारी वाहनों का प्रवेश लगातार बढ़ते जा रहा है। पूरे दिन में लगभग एक हजार से अधिक हैवी ओवरलोड वाहन इस रोड पर देखने को मिल रहा है। इस रोड में हैवी वाहन चालक अपनी वाहन को निर्धारित क्षमता से अधिक तेज रफ्तार में चलाते निकल रहे है जिसके फलस्वरूप कहीं न कहीं रोड में दुर्घटनाएं घटित हो रही है।

हाईस्कूल के लगने व छुट्टी के समय होती है दुर्घटना की सम्भावना

लवन नगर के मुख्य मार्ग के बीचों-बीच स्थित मुख्य मार्ग पर हाई स्कूल संचालित है, जहंा करीबन बारह सौ स्कूली छात्र-छात्राएं अध्ययनरत है, स्कूल के लगने, व स्कूल के छुट्टी के समय मुख्य मार्ग पर स्कूली विद्यार्थी एक साथ निकलते है, वही दूसरी ओर नगर के मुख्य मार्ग पर तेज रफ्तार ओवर लोड हैवी वाहन चलते है, जिससे दुर्घटनाएं घटित होने की सम्भावाना बनी रहती है। साथ ही रविवार साप्ताहिक बाजार के दिन नगर के बस स्टैण्ड पर हर समय जाम की समस्या से लोगों को जुझना पड़ता है।

नगर की चमचमाती सड़क लोगों के लिए बना जी का जंझाल

जब से बलौदाबाजार गिधौरी तक नई सड़क मार्ग बना है तब से इस रोड पर भारी वाहनों का पहले की अपेक्षा ज्यादा की संख्या में प्रवेश हो रहा है। भारी वाहन टोल टैक्स बचाने के चक्कर में दूसरे मार्ग को छोड़कर इस मार्ग पर चल रहे है। भारी वाहनों के प्रवेश के साथ ही आये दिन इस मार्ग पर कहीं न कहीं दुर्घटनाएं घटित हो रही है। नशा और रफ्तार वाहन दुर्घटना की मुख्य वजह है। इस रोड पर सबसे ज्यादा दुर्घटना हैवी वाहनों से हुई है। रफ्तार में होने की वजह से हैवी वाहन अपनी स्पीड पर नियंत्रण नहीं रख पाते जिसकी वजह से हादसा हो रहे है।

उल्लेखनीय है कि लवन नगरवासियों द्वारा सरकार को दबी जुबान से लवन के बाहरी सीमा पर बायपास मार्ग बनाने की मांग समाचार पत्रों के माध्यम से लगातार करते आ रहे है। लेकिन प्रशासन इस ओर गंभीरता पूर्वक विचार नहीं कर पाई है। यदि शासन-प्रशासन द्वारा शीघ्र ही लवन लवन में हो रही बढ़ती दुर्घटनाओं पर अंकुश नहीं लगा पाई तो शीघ्र ही नगरवासियों को मुख्य मार्ग पर उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: