पुलवामा हमला : हमने भूला नहीं, हमने छोड़ा नहीं – CRPF

आज पुलवामा हमले की पहली बर्सी है। आज के ही

Advertisement
दिन आत्मघाती हमले में देश के 40 वीर जवान शहीद हो गए थे। इस मौके पर CRPF ने ट्वीट कर लिखा कि ‘तुम्हारे शौर्य के गीत, कर्कश शोर में खोये नहीं। गर्व इतना था कि हम देर तक रोये नहीं।
आज पुलवामा (Pulwama) हमले ( Terror Attack) की पहली बरसी ( Anniversary) है। आज के ही दिन 2019 में आत्मघाती हमले में देश के वीर जवान शहीद हुए थे। उनकी शहादत को पूरा देश याद कर रहा है।
14 फरवरी 2019 को हुए इस हमले में सीआरपीएफ (CRPF) के 40 जवान शहीद हुए थे। इस मौके पर पूरा देश पुलवामा के उन शहीदों को याद कर रहा है, जिन्होंने एक साल पहले हुए आतंकी हमले में अपने प्राणों का बलिदान दे दिया। आज से ठीक एक साल पहले दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में हिंदुस्तान ने अपने 40 जवानों को खोया था। पाक समर्थित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद ने सीआरपीएफ के काफिले को अपना निशाना बनाया था। हमले में कश्मीर की धरती 40 जवानों के लहू से लाल हो गई थी। हिंदुस्तान ने बालाकोट में एयर स्ट्राइक कर अपने 40 जवानों की शहादत का बदला लिया था।

Advertisement

इस मौके पर CRPF ने ट्वीट (Tweet) कर लिखा कि ‘तुम्हारे शौर्य के गीत, कर्कश शोर में खोये नहीं। गर्व इतना था कि हम देर तक रोये नहीं। CRPF ने ट्वीट अपने ट्वीट में आगे लिखा है कि, ‘हमने भूला नहीं (We did not Forget), हमने छोड़ा नहीं’ (We did not Forgive)। हम अपने भाईयों को सलाम करते हैं, जिन्होंने पुलवामा में देश के लिए जान दी। हम उनके परिवारों के साथ कंधे से कंधा लगाकर खड़े हैं।’

आपको बता दें कि जिस तरह का ट्वीट आज किया गया है, कुछ ऐसा ही ट्वीट पिछले साल किया गया था। जब पूरा देश जवानों को खोने का गम मना रहा था, तब जोश भरने के लिए सीआरपीएफ ने एक ट्वीट किया था। ट्वीट में लिखा था, ‘हम भूलेंगे नहीं, हम बख्शेंगे नहीं। पुलवामा में शहीद हुए जवानों को हम सलाम करते हैं और उनके परिवारों के साथ हैं। इस जघन्य अपराध का बदला लिया जाएगा।’

ठीक एक साल पहले यानी 14 फरवरी को इन तस्वीरों ने दुनिया को झकझोर कर रख दिया था। आखें नम थी। दिल में गम था। चेहरे पर मायूसी और 40 परिवारों को अपने के खोने का दर्द। ये वो गहरे जख्म की यादें है, जिन्हें लब्जों ने बया कर पाना नामूमकिन है। आज उसी त्रासदी की पहली बरसी है। पुलवामा हमले को एक साल हो गया है। आज के ही दिन आत्मघाती हमले में देश के वीर जवान शहीद हुए थे। उनकी शहादत को पूरा देश याद कर रहा है। 14 फरवरी 2019 को हुए इस हमले में सीआरपीएफ (CRPF) के 40 जवान शहीद हुए थे। जब भी हमले की दर्दनाक यादें ताजा होती है तो आखें गम से, दिल गुस्से से भर आता है। लेकिन इस बीते साल में काफी कुछ बदल गया। सुरक्षाबलों ने उन आतंकियों को मार गियारा जो इस साज़िश में शामिल थे। साथ ही सुरक्षा के लिहाज से लिहाज से भी इंतजाम पहले से पुख्ता कर दिए गए हैं।

आपको बता दें कि 14 फरवरी 2019 को सीरआरपीएफ के काफिले पर आत्मघाती हमले से देश का सीना छलनी हुआ था और 40 जाबांज सपूतों को खो दिया था। जिसके चंद दिनों बाद हिंदुस्तान में पाकिस्तान के अदंर घुस कर बालाकोट में चल रही आंतक की फैक्ट्री को तबाह कर दिया था। पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने पुलवामा में हमला किया था। एक गाड़ी बम से लैस होकर आई और CRPF के काफिले से टकरा गई. इसके बाद हुए धमाके ने 40 जवानों की जान लील ली।

MUKESH KUMAR LAHARE

मुकेश कुमार लहरे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: